E-SIM या फिर फिजिकल Sim Card, जानें कौन सा विकल्प बेहतर? इन फोन्स पर मिलेगा ऑप्शन । why esim is better than Physical Sim Card know the difference eSim Compatible Smartphone List

104 views

Airtel, e-SIMs, Gopal Vittal, user experience, security measures, device compatibility, Airtel Thank- India TV Hindi

Image Source : फाइल फोटो
ई-सिम की मदद से स्मार्टफोन को ट्रैक करना बेहद आसानी से ट्रैक किया जा सकता है।

eSim Compatible Smartphone List: अगर किसी एक सेगमेंट में सबसे तेज बदलाव की बात की जाए तो टेक्नोलॉजी शायद पहले नंबर आएगी। पिछले कुछ सालों में टेक्नोलॉजी में कई बड़े परिवर्तन आए हैं। पहले जहां लोग के पास सिर्फ फीचर फोन दिखते थे वहीं अब ज्यादातर लोग स्मार्टफोन इस्तेमाल कर रहे हैं। स्मार्टफोन में आए दिन नए नए फीचर्स देखने को मिलते रहते हैं। अब सिम की टेक्नोलॉजी भी तेजी से बदल रही है। अब ज्यादातर कंपनियां ई-सिम टेक्नोलॉजी की तरफ शिफ्ट हो रही है। 

पिछले कुछ समय में eSim की जमकर चर्चा हुई है। कई सारी स्मार्टफोन कंपनियां भी अपने फोन्स को E-Sim कंपैटिबल बना रही है। हाल ही में एयरटेल के सीईओ गोपाल विट्टल ने भी eSim को लेकर बड़ी बात कही थी। उन्होंने कहा था कि रेगुलर सिम कार्ड की तुलना में ईसिम कहीं ज्यादा सुरक्षित है। इतना ही नहीं उन्होंने यह भी बताया कि एयरटेल के ग्राहकों को इस संबंध में मेल भी किया गया है और Esim के फायदे बताए गए हैं।  गोपाल विट्टल ने अपने ग्राहकों से फिजिकल सिम कार्ड की बजाय eSim इस्तेमाल करने के लिए कहा है।  

गोपाल विट्टल के इस बयान के बाद अब लोगों में ई-सिम को लेकर कई तरह से सवाल उठ रहे हैं। आइए हम आपको बताते हैं कि आखिर eSim Card एक फिजिकल या फिर रेगुलर सिम कार्ड की तुलना में कितना अलग होता है और यह कितना सुरक्षित है। 

क्या है e-Sim

E-Sim Card को डिजिटल सिम कार्ट या फिर वर्चुअल सिम कार्ड कहा जाता है। इसका फुल फॉर्म एम्बेडेड सब्सक्राइबर आइडेंटिटी मॉड्यूल होता है। eSim कार्ड को रेगुलर फिजिकल सिम की तरह लगाने की जरूरत नहीं होती बल्कि इसे डिवाइस पर ही एम्बेड किया जाता है। इसे टेलीकॉम कंपनी के द्वारा स्मार्टफोन में ओवर द एयर एम्बेड किया जाता है। 

esim कार्ड में आपको वह सभी सुविधाएं मिलती हैं जो आपको एक नॉर्मल फिजिकल सिम कार्ड में मिलती है। हालांकि यह फिजिकल सिम कार्ड की तुलना में काफी सेफ होती है। इसके चोरी होने का डर नहीं होता है। अगर आपको फोन खो जाए या फिर चोरी हो जाए तो esim एक्टिवेट होने की वजह से इसे आसानी से ट्रैक किया जा सकता है। ई-सिम के फिजिकल डैमेज होने का भी खतरा कम होता है। 

कैसे एक्टिवेट होती है E-Sim

अगर आप जियो का सिम इस्तेमाल करते हैं और आप अपने सिम को ई-सिम में कनवर्ट करना चाहते हैं तो आपको GETESIM के साथ EID नंबर और IMEI लिखकर 199 पर एसएमएस लिखना होगा। अब आपको एक 19 अंक का नंबर मिलेगा। नेक्स्ट स्टेप में आपको 199 पर SIMCHG के साथ ई-सिम को SMS करना होगा। अब आपको अपनी प्रोफाइल कॉन्फिगर करने के लिए ऑप्शन मिलेगा। इसके साथ ही आपको डेटा प्लान सेलेक्ट करने के लिए ऑप्शन दिए जाएंगे। इसके बाद आपका फिजिकल सिम ई-सिम में कनवर्ट हो जाएगा। 

किन फोन्स पर लगती है E-SIM 

iPhones पर ई-सिम का ऑप्शन

ई-सिम का ऑप्शन अभी कुछ चुनिंदा स्मार्टफोन ही दे रही है। आप iOS 12.1  से ऊपर वाले स्मार्टफोन में ई-सिम का इस्तेमाल कर सकते हैं। iPhone XR, iPhone XS, iPhone XS Max, iPhone 11, iPhone 11 Pro, iPhone 11 Pro Max, iPhone SE, iPhone 12 mini, iPhone 12, iPhone 12 Pro, और iPhone 12 Pro Max में ई सिम का लाभ उठा सकते हैं। 

गूगल पिक्सल सीरीज में ई-सिम का ऑप्शन

इसी तरह इसी तरह गूगल अपने सिक्सल सीरीज में Pixel 3, Pixel 3 XL, Pixel 3a, Pixel 3a XL, और Pixel 4a में यूजर्स को ई-सिम लगाने का ऑप्शन देता है।  

सैमसंग के स्मार्टफोन पर ई-सिम का ऑप्शन

अगर आपके पास Samsung Galaxy Z Flip, Samsung Galaxy Fold, Samsung Galaxy Note 20 Ultra 5G, Samsung Galaxy Note 20, Samsung Galaxy Z Fold 2, या फिर Samsung Galaxy S21 5G, Samsung Galaxy S21+ 5G, Samsung Galaxy S21 Ultra 5G, है तो आप इन स्मार्टफोन में भी ई-सिम लगा सकते हैं। 

मोटोरोला के इन फोन्स पर मिलेगा ई-सिम ऑप्शन

अगर आपके पास Motorola Razr और Motorola Razr 5G है तो आप इसमें भी ई-सिम का फीचर इस्तेमाल कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें- VI यूजर्स की लगी लॉटरी, डेटा खत्म होने की टेंशन दूर, कंपनी ने लॉन्च किया 23 रुपये का धांसू प्लान

https://www.indiatv.in/tech/tech-news/why-esim-is-better-than-physical-sim-card-know-the-difference-esim-compatible-smartphone-list-2023-11-27-1004305

Related Posts

Leave a Comment